BJP सरकार ने पतंजलि को पहुँचाया करोड़ों का फायदा, जानकारी देने पर दो RTI अधिकारियों का ट्रांसफर !

0
148

 

मुंबई : भाजपा की सरकारें अपने ख़ास सहयोगी बाबा रामदेव के ऊपर इस कदर मेहरबान हैं कि हर मौंके पर उनको करोड़ों का फायदा पहुंचा रही है। हाल ही में महाराष्ट्र एयरपोर्ट अथॉरिटी कंपनी (MADC) के दो सूचना अधिकारियों (पीआईओ) को भाजपा और बाबा रामदेव के बीच के लव कनेक्शन का शिकार होना पड़ा और सरकार ने सजा के रूप में उनका ट्रांसफर कर दिया, जबकि उनकी कोई गलती नहीं थी और वह सिर्फ जिम्मेदारी का सही निर्वाहन करने में लगे हुए थे।

इन दोनों सूचना अधिकारियों के ट्रांसफर को रामदेव और उनकी कंपनी पतंजलि से जोड़कर देखा जा रहा है। दरअसल, जिन दो अधिकारियों का ट्रांसफर हुआ उनका नाम अतुल ठाकरे और समीर गोखले है। दोनों ने एक आरटीआई के लिए जानकारी जुटाने में मदद की थी जिसको आधार बनाकर आरोप लगाया गया कि MADC की जमीन पतंजलि को 75 प्रतिशत डिस्काउंट पर दे दी गई थी। जिससे सरकार को करोड़ों का नुक्सान के राजस्व का अनुमान है।

आरटीआई का जवाब आने के बाद MADC प्रमुख विश्वास पाटिल को मुख्य सूचना आयुक्त रत्नाकर गायकवाड़ ने समन किया था। उसके ठीक 12 दिन बाद ही सूचना देने वाले दोनों पीआईओ का ट्रांसफर कर दिया गया।

अतुल ठाकरे MADC के मार्केटिंग मैनेजर थे और नागपुर ब्रांच में सूचना अधिकारी थे अब उनको मुंबई भेज दिया गया है और समीर गोखले जो मुंबई में मार्केटिंग मैनेजर थे उन्हें नागपुर ट्रांसफर कर दिया गया।

टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के मुताबिक, ठाकरे ने बताया कि एमडी ने उनको प्रमोशन देने का वादा किया था लेकिन ट्रांसफर कर दिया। हालांकि, वह यह भी मानते हैं कि यह ट्रांसफर प्रशासनिक कारणों से भी हो सकता है, लेकिन ट्रांसफर के वक्त पर सवाल उठ रहे हैं।

Loading...