सेंसर बोर्ड को फटकार लगाते हुए हाइकोर्ट ने “उड़ता पंजाब” को दी मंजूरी

सेंसर बोर्ड को फटकार लगाते हुए हाइकोर्ट ने "उड़ता पंजाब" को दी मंजूरी
loading...

फिल्म “उड़ता पंजाब” के सीन काटने के खिलाफ प्रोड्यूसर्स की याचिका पर बॉम्बे हाईकोर्ट ने सोमवार को फैसला सुनाया। हाईकोर्ट ने प्रोड्यूसर्स से मूवी में एक सीन कट करने और तीन डिस्क्लेमर दिखाने को कहा है। सेंसर बोर्ड ने मूवी में 13 कट्स लगाने को कहा था। प्रो़ड्यूसर्स इसी के खिलाफ थे। हाईकोर्ट ने सेंसर बोर्ड से 48 घंटे के अंदर ए सर्टिफिकेट जारी करने को कहा है। फिल्म प्रोड्यूसर्स का कहना है कि मूवी 17 जून को ही रिलीज होगी।

फिल्म में पब्लिक के सामने टॉमी सिंह (शाहिद कपूर) के यूरीन करने के सीन को हटाने को कहा गया है। यह कट नंबर 9 था।

ये डिस्क्लेमर होंगे फिल्म में
पहला- हम ड्रग्स का यूज प्रमोट नहीं करते।
दूसरा- खराब शब्द सिर्फ हकीकत बयां करने के लिए हैं, प्रमोट करने के लिए नहीं।
तीसरा- यह मूवी किसी राज्य की छवि खराब करने के लिए नहीं है।

\हाईकोर्ट ने सेंसर वार्ड से फिल्म के प्रोड्यूसर्स को 48 घंटे के अंदर A सर्टिफिकेट देने को कहा है।
17 जून को फिल्म सर्टिफिकेशन एंड अपीलिएट ट्रिब्यूनल में इस मामले की सुनवाई है। मूवी के खिलाफ कुछ याचिकाकर्ता पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट भी पहुंचे। कोर्ट ने मूवी के प्रोड्यूसर्स को नोटिस जारी किया है।

फिल्म प्रोड्यूसर अनुराग कश्यप के वकील अमित नाइक ने कहा, ”हमारी याचिका को मंजूरी दी गई है। हमने फंडामेंटल राइट की लड़ाई जीती है। रिवाइजिंग कमेटी के ऑर्डर को खारिज कर दिया गया। फिल्म के डायरेक्टर अभिषेक चौबे ने कहा, हमें बहुत बड़ी राहत मिली। हमें समय पर फिल्म रिलीज करने का मौका मिलेगा। हमारे वकीलों की मेहनत काम आई। 101% फिल्म 17 जून को ही रिलीज होगी।

बॉम्बे हाईकोर्ट ने सोमवार को कहा हमने यह देखने के लिए फिल्म की पूरी स्क्रिप्ट पढ़ी है कि कहीं ड्रग्स को एनकरेज तो नहीं किया गया। हमें यह नहीं मिला कि फिल्म में शहरों के नामों के जरिए भारत की सॉवर्निटी या इंटीग्रिटी पर पर सवाल खड़े किए हैं। सेंसर बोर्ड ने फिल्म में आठ शहरों के साइनबोर्ड पर आपत्ति जताते हुए फिल्ममेकर्स से इन्हें हटाने के लिए कहा था। जब तक क्रिएटिव फ्रीडम का गलत इस्तेमाल न हो, किसी को दखल नहीं देना चाहिए। बोर्ड में सेंसर वर्ड का जिक्र नहीं है। बोर्ड को भारत के संविधान और सुप्रीम कोर्ट के डायरेक्शन के तहत ही अपने पावर का इस्तेमाल करना चाहिए।

loading...

loading...