शिक्षकों को वेतन के बदले दिए जा सकते हैं चूजे, पहले दी गई थीं सब्जियां

शिक्षकों को वेतन के बदले दिए जा सकते हैं चूजे, पहले दी गई थीं सब्जियां
loading...

उज्बेकिस्तान के कैरेकलपाकस्तान रिपब्लिक में अधिकारी शिक्षकों को वेतन के बदले चूजों को लेने के लिए दबाव बना रहे हैं। इससे पहले शिक्षको को वेतन के बदले आलू, गाजर और कद्द जैसी सब्जियां दी जा चुकी है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक शिक्षक इसे शर्मनाक बता रहे हैं।

वहां अब वेतनभोगियों में सरकार के प्रति गुस्सा बढ़ता जा रहा है। उनका कहना है, यह शर्मनाक है और भ्रष्ट नौकरशाही का संकेत है। शिक्षकों के मुताबिक अगर उन्हें चिकन की जरूरत होती है तो वो इसे बाजार से काफी कम कीमत पर खरीद सकते हैं।

सैलरी के लिए एक चूजे को सात हजार सोम (उज्बेकिस्तान की मुद्रा) यानी करीब 167 रुपए के बराबर माना गया है, जो बाजार में इसकी कीमत से दोगुना है।अधिकारियों का कहना है कि देश के बैंकों में पैसे की कमी की वजह से उन्हें ऐसा करना पड़ रहा है।

दरअसल, वाकई उज्बेकिस्तान कई साल से नकदी की कमी की समस्या से जूझ रहा है। इसके चलते कर्मचारियों के वेतन के साथ ही पेंशन भुगतान में दिक्कतें आ रही हैं। आपको बता दें कि उज्बेकिस्तान की सरकार मीडिया पर सख्त नियंत्रण रखती है और जो नागरिक विदेशी मीडिया से बात करते हैं, वो पहचान छिपाकर ही बात करता है।

loading...

loading...