अखिलेश सरकार ने निकाली 32,000 भर्तियां, जानिये क्या है योग्यता

20
33
Loading...

अखिलेश सरकार ने बेरोजगारों के लिए महत्वपूर्ण फैसला किया है। सरकार ने 32 हजार शारीरिक शिक्षा अनुदेशकों की भर्ती का अहम फैसला लिया है। इन शिक्षा अनुदेशकों की उच्च प्राथमिक स्कूलों में नियुक्ति होगी।

बेसिक शिक्षा विभाग ने भर्ती प्रक्रिया अगले महीने से शुरू करने की योजना बनाई है। इसमें बेचलर इन फिजिकल एजुकेशन (बीपीएड) पास युवाओं को मौका दिया जाएगा।

शिक्षा का अधिकार अधिनियम में बच्चों के सर्वांगीण विकास पर विशेष जोर दिया गया है। कक्षा-6, 7 और 8 के पाठ्यक्रम में ‘खेल और स्वास्थ्य’ नाम से एक किताब भी शामिल है, पर अधिकतर स्कूलों में यह विषय पढ़ाने के लिए ट्रेंड शिक्षक नहीं हैं।

सरकार के निर्णय के अनुसार, 100 से कम छात्र संख्या वाले स्कूलों में भी शारीरिक शिक्षा अनुदेशक तैनात किए जाएंगे। अभी यह सुविधा 100 से ज्यादा छात्र संख्या वाले स्कूलों में ही दी गई है।

शारीरिक शिक्षा अनुदेशक भर्ती के लिए अभ्यर्थियो को हाईस्कूल, इंटर, स्नातक और बीपीएड में मिले अंकों के आधार पर मेरिट लिस्ट तैयार होगी। अधिकारियों के मुताबिक, इन अनुदेशकों को सात हजार रुपये प्रति माह मानदेय का भुगतान किया जाएगा। करीब 32 हजार उच्च प्राथमिक स्कूलों में इनकी तैनाती की जाएगी।

बेसिक शिक्षा मंत्री अहमद हसन ने कहा की शारीरिक शिक्षा अनुदेशकों की भर्ती के लिए मुख्यमंत्री अखिलेश की सहमति मिल गई है। जरूरी औपचारिकताएं पूरी होते ही भर्ती प्रक्रिया शुरू कर दी जाएगी।

20 COMMENTS

  1. सेवा में,
    माननीय मुख्यमंत्री महोदय,
    उत्तर प्रदेश शासन लखनऊ।

    विषय-बेसिक हेल्थ वर्कर(पुरुष) परीक्षा घोषित कराये जाने के सम्बन्ध में।

    महोदय,
    सम्मान पूर्वक अवगत करना है कि बेसिक हेल्थ वर्कर(पुरुष) का विज्ञापन दिनाँक 20-11-2012 में विभाग द्वारा प्रकाशित कराया गया था जिसमें पात्र अभ्यर्थियों के आवेदन आमंत्रित किये गए थे।काफी लंबे समयावधि तक प्रतीक्षा के उपरान्त आपके विभाग द्वारा दिनाँक 05-07-2015 को उक्त परीक्षा कुशलता पूर्वक सम्पन करायी गयी और दिनाँक 07-07-2015 को समाचार पत्र के माध्यम से ज्ञात हुआ कि उक्त परीक्षा का परिणाम शीघ्र ही घोषित कर दिया जाएगा तथा विभाग की वेबसाइट पर Answer Key अपलोड कर दी गयी किन्तु एक वर्ष से अधिक समय बीत जाने के उपरान्त भी आज दिनाँक तक परीक्षा परिणाम घोषित नहीं किया गया जिससे हम परिक्षार्थीगण परीक्षा परिणाम की आशा में परेशान व् कुंठित है तथा बेरोजगारी के कारण भुखमरी के कगार पर है और बहुत से अभ्यर्थी Over Age हो रहे है।उल्लेखनीय यह है कि परीक्षा परिणाम घोषित न किये जाने की बात शासन के संज्ञान में आने पर शासन द्वारा उक्त परीक्षा परिणाम के संबंध में निदेशक प्रशासन द्वारा तीन जाँच अधिकारियों का पैनल बनाकर जाँच करायी गयी।जिससे जाँच अधिकारियों के पैनल द्वारा सर्वप्रथम दिनाँक 26-10-2015को जाँच आख्या निदेशक प्रशासन को प्रेषित की गयी।जिसमे भर्ती प्रक्रिया में किसी भी प्रकार की गड़बड़ी,कमी,दोष,त्रुटि नही पाये जाने का उल्लेख किया गया था।
    परंतु बाद में राजनीतिक कारणों से प्रथम जाँच आख्या में जानबूझकर नकारात्मक बिंदुओं को सम्मिलित करते हुए जाँच आख्या को नकारात्मक बना दिया गया जो की दिनाँक 18-11-2015 में शासन को प्रेषित की गई।
    प्रमुख सचिव एवं निदेशक प्रशासन द्वारा मिलकर प्रथम जाँच आख्या को छिपा कर मात्र दूसरी जाँच आख्या पूर्ण रूप से नकारत्मक बना दिया गया था।उसी जाँच आख्या पर पूरी भर्ती प्रक्रिया निरस्त करने का आदेश कर दिया गया।जिससे उनके द्वारा सुस्पष्ट साक्ष्यों को छिपाते हुए उच्च अधिकारियों एवं माननीय मुख्यमंत्री जी को भ्रमित किया गया और उन लोगों तक सही तथ्यों को प्रेषित किया गया और उन लोगो तक सही तथ्यों को प्रेषित नहीं किया जा रहा है।
    शासन के उक्त निर्णय से हम आवेदको को काफी हानि हो रही है तथा इस प्रकार के कृत्य से सरकार की छवि धूमिल करने का अथक प्रयास किया जा रहा है।
    इस हेतु शासन एवं महानिदेशालय के संलिप्त अधिकारियों की जाँच भी करायी जानी चाहिए तथा दोषी अधिकारियों पर शक्त कार्यवाही की जानी चाहिए।
    अतः श्रीमान जी से निवेदन है कि उपरोक्त तथ्यों को माननीय मुख्यमंत्री महोदय के संज्ञान में लाते हुए हम सभी परिक्षार्थीगण के भविष्य को देखते हुए शीघ्र परीक्षा परिणाम घोषित करने की कृपा करें।हम सभी परिक्षार्थीगण आपके आजीवन आभारी रहेंगे।
    हमे आप से न्याय की पूरी उम्मीद है

  2. अखिलेश सरकार बी.पी.एड वालो के साथ अन्याय कर रही है पढ़े लिखे लोगो को 7000 और सफाई कर्मी को 16000
    मतलब ज्यादा पढ़ाई लिखाई बेकार और 8वीं वाले कलट्टर वाह री अहारों की दोगली

  3. Bped aur bed me koi diffrence sirf branch diffrence ka time bhi utna hi money bhi utna hi to sirf sumvida me 7000 me kya ghnta ukharoge itna tuition se le sakte ho sambida gulami haI to salo sambida pr itna Mt itrao

  4. Shabash wah bhai akhilesh yahi umeed thi shabash
    Padh likh kar majduro se b badtar banane se acha log apne bacho ko sidhe majdur hi banaye itna paisa aur dimag kharch krne ki kya jarurat

  5. श्री मान अखिलेश जी आप वोट के लिए ये सब कर रहे है
    हम सब जानते है अरे जो आशा बहुए उत्तर प्रदेश के लिए इतना सब कर रहे है आपने उनकी तनख्वाह अभी तक नही लागू की
    और सुनिए जनाब अगर आप आशा बहुओ की तनख्वाह लागू करवा दो
    तो उत्तर प्रदेश में इतनी आशा है वो सब आपको सा परिवार वोट देगी तो भी आप सब से ज़्यादा वोट से जीत जाओगे
    अगर इस बार आपको जीतना है तो मेरी बात पर गौर फरमाइयेगा
    धन्येवाद

  6. Respected Cm sir technical students k baare m bhi please kuch sochiye. Aaj ka halat aisa bai k aaj hum. Itne bde state ko chord kr j mean apne domestic state ko chord kr kisi aur state m job kr fhd hai. Aur aaj k date m private company surf sosard kr rhi hai kya hoga 6000 permonth k salary m. Dear sir please kuch to sochiye. Odhai se logo ka bharosa khtm hota jaa rha hai. Please j highly request you please try to something about engineer.

Comments are closed.