चुनाव आयोग में भी होती है सेटिंग – AIADMK का सिंबल दिलाने के लिए 60 करोड़ में तय हुआ सौदा

0
58
Loading...

लखनऊ, चुनाव आयोग में सेटिंग करके कोई भी और किसी भी पार्टी का सिंबल किसी को दिया जा सकता है। चुनाव आयोग से जुड़ा एक नया मामला सामने आया है। तमिलनाडु की पूर्व मुख्यमंत्री जयललिता की पार्टी एआईएडीएमके की नेता शशिकला के भतीजे के खिलाफ केस दर्ज हो गया है मामला चुनाव आयोग में सेटिंग से जुड़ा है।

दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने एआईएडीएमके की नेता शशिकला के भतीजे टीटीवी दिनाकरन के खिलाफ भ्रष्टाचार और साजिश का केस दर्ज किया है और एक बिचौलिए सुकेश चंद्रशेखर को 1 करोड़ 30 लाख रुपये के साथ दिल्ली के होटल से गिरफ्तार किया है।

जानकारी के मुताबिक- सुकेश चंद्रशेखर ने दिनाकरन से कहा था कि उसकी चुनाव आयोग में अच्छी पैठ है और वह एआईएडीएमके को उसका चुनाव चिह्न दिला देगा। इस काम के लिए 60 करोड़ रुपये का सौदा हुआ। जिसमें से 1 करोड़ 30 लाख लेते हुए सुकेश पकड़ा गया. पूछताछ में सुकेश ने कहा कि ये पैसा दिनाकरन का है।

दरअसल, पूरा मामला यह है कि तमिलनाडु की पूर्व सीएम जयललिता की मौत के बाद एआईएडीएमके दो फाड़ में बंट गई थी। एक खेमा शशिकला का है जबकि दूसरा पन्नीरसेल्वम का है। दोनों ने दावा किया कि एआईएडीएमके चुनाव चिन्ह हमें मिलना चाहिए कि क्योंकि उनके पास ज्यादा बहुमत है।

इस पर चुनाव आयोग ने एआईएडीएमके के चुनाव चिन्ह को फ्रीज कर लिया और दोनों खेमों को अलग – अलग सिंबल दे दिए गए। यह मामला अभी भी चुनाव आयोग में लंबित है। पुलिस के मुताबिक – अभी तक की जांच में चुनाव आयोग के किसी भी अधिकारी की भूमिका सामने नहीं आई है। पुलिस जल्दी ही टीटीवी दिनाकरन को नोटिस जारी कर उनसे पूछताछ करेगी। वहीं इस मामले के सामने आने के बाद तमिलनाडु की राजनीति में हड़कंप मच गया है। फिलहाल शशिकला आय से अधिक संपत्ति मामले में जेल में बंद है।

Input Ndtv

Loading...