EVM घोटाला – राजस्थान धौलपुर उपचुनाव में बटन दबाया “हाथ” का मशीन ने उगला “कमल”

0
50
Loading...

लखनऊ, EVM के बल पर यूपी का चुनाव जीता गया है इसका आरोप मायावती ने लगाया था। आज राजस्थान के धौलपुर में हुए उपचुनाव के दौरान ईवीएम मशीनों को लेकर एक बार फिर से सवाल उठे, बहुत सारे वोटरों ने शिकायत की वो किसी और पार्टी को वोट दे रहे हैं और वोटर पर्ची किसी और पार्टी की निकल रही है। जांच करने पर इस तरह की 18 ईवीएम मशीनों को सील कर उसकी जगह दूसरी ईवीएम मशीनें लगाई गई।

एक मतदाता राकेश जैन ने जब शिकायत की कि उन्होंने कांग्रेस को वोट डाला, मगर वोटर पर्ची बीजेपी की निकली हैं. तो रिटर्निंग अधिकारी ने जांच की तो पता चला कि मशीन गलत वोट डाल रही हैं। रिटर्निंग अधिकारी मनीष फौजदार ने कहा कि वोट डालने गए एक मतदाता राकेश जैन ने बताया कि मैं जब ईवीएम मशीन से वोट डालने गया तो देखा कि मैं किसी को वोट दे रहा था और वीवीपैट मशीन में किसी दूसरे को वोट जा रहा था। मतदान दो घंटे तक रोक दिया गया। इससे नाराज कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने कई मतदान केंद्रो के बाहर नारेबाजी भी की।

मतदान के दौरान एक दर्जन से अधिक मतदान केंद्रों पर ईवीएम मशीन चालू नहीं हो सकी। जिससे मतदाताओं को खासी परेशानी का सामना करना पड़ा। करीब एक घंटे बाद EVM मशीनों को दुरुस्त किया गया। उसके बाद मतदान प्रक्रिया शुरू हुई।

राजस्थान केर धौलपुर विधानसभा के उप चुनाव के दौरान EVM मशीन में सामने आई गड़बड़ी ने बसपा प्रमुख मायावती के आरोपों को और बल दिया है। मध्य प्रदेश में डेमो के दौरान EVM मशीन ने कांग्रेस की पर्ची दबाने पर बीजेपी की पर्ची निकाली थी। इस घटना को से चुनाव आयोग पहले से ही EVM मशीन को लेकर विपक्ष के निशाने पर है। अब राजस्थान से आई इस खबर से विपक्ष चुनाव आयोग पर और भी हमलावर होगा।