मेरठ में RSS कार्यकर्ता की नृशंस हत्या, यूपी में तो BJP की ही सरकार है, योगी जी केरल नहीं यूपी देखो !

0
2

मेरठ, उत्तर प्रदेश में कानून व्यवस्था पूरी तरह से चौपट हो चुकी है और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ निकाय चुनाव के प्रचार के लिए यूपी की गली गली भाजपा के लिए वोट मांग रहे हैं। केरल में आरएसएस कार्यकर्ताओं की हत्या पर हो हल्ला मचाने वाली भाजपा अपने शासन में ही आरएसएस कार्यकर्ताओं को सुरक्षा नहीं दे पा रही है। जबकि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री केरल में जाकर जन सुरक्षा यात्रा करते हैं और यूपी में जनता मरे चाहे नेता मरे या फिर आरएसएस कार्यकर्ता मरे  उन्हें कोई फर्क नहीं पड़ता वो चुनाव प्रचार में व्यस्त हैं।

जानकारी के मुताबिक, उत्तर प्रदेश के मेरठ जिले में राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) के एक कार्यकर्ता का शव बोरे में बन्द मिला है। मृतक की पहचान सुनील गर्ग के रूप में की गई है। सुनील गर्ग लोहे के मशहूर व्यापारी भी थे। गर्ग को अंतिम बार रविवार को भाजपा के नगर निगम प्रत्याशी का चुनाव प्रचार करते देखा गया था।

पुलिस अधीक्षक मानसिंह (शहर) ने बताया कि मृतक के चेहरे पर धारदार हथियार से हमले के निशान मिले हैं। उनकी मोटरसाइकिल एक पार्किंग से बरामद कर ली गई है। हत्या होने से पहले वह कहां-कहां गए और किन लोगों से मिले इसकी जानकारी एकत्र की जा रही है। जल्द ही आरोपी पुलिस की गिरफ्त में होंगे।

मेरठ के भाजपा और आरएसएस कार्यकर्ताओं ने पुलिस को जल्द से जल्द इस हत्याकांड को सुलझाने की चेतावनी दी है। यदि ऐसा नहीं हुआ, तो उन्होंने बड़े आंदोलन की चेतावनी दी है। बताया जा रहा है कि मृतक सुनील गर्ग राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के सक्रिय कार्यकर्ता थे। बीजेपी के लिए वह कई दिनों से प्रचार कर रहे थे।

Loading...