यूपी पुलिस भर्ती में अब फिर से देनी होगी लिखित परीक्षा ! अखिलेश सरकार ने लागू की थी मेरिट व्यवस्था

0
434
Loading...

 

लखनऊ : उत्तर प्रदेश पुलिस भर्ती प्रक्रिया को आसान बनाने के लिए अखिलेश सरकार ने जो लिखित परीक्षा समाप्त कर दी थी उसे वर्तमान भाजपा की योगी सरकार ने फिर से लागू कर दिया। अब यूपी पुलिस में नौकरी करने के लिए इच्छुक युवाओं को लिखित परीक्षा देनी पड़ेगी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भर्ती प्रक्रिया में संसोधन कर लिखित परीक्षा लागू करने के निर्देश दिए हैं।

योगी सरकार के निर्देश पर जल्द ही शुरू होगी भर्ती प्रक्रिया –

बता दें कि सर्वोच्च न्यायलय से मंजूरी मिलने के बाद यूपी सरकार डेढ़ लाख सिपाहियों की भर्ती करने जा रही है। पुलिस विभाग में हर साल टुकड़ों में भर्तियां की जायेंगी। वहीं सिपाही बनने के लिए अब युवाओं को लिखित परीक्षा भी देनी पड़ेगी।

मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने शुक्रवार को विधानसभा में इस बात की जानकारी दी,उन्होंने कहा कि पहले चरण में 30,000 कांस्टेबल और 2000 दरोगाओं की भर्ती की जाएगी। भर्ती में जाति और लिंग भेद के आधार पर कोई भेदभाव नहीं होगा।

बता दें कि यूपी पुलिस में कम्प्यूटर ऑपरेटर के पदों पर भर्ती प्रक्रिया के लिए विज्ञापन जारी कर दिया है। इन पदों पर भी जल्द ही भर्ती प्रक्रिया शुरू हो जायेगी। हालाँकि ये सारी नौकरियाँ अखिलेश सरकार में ही सर्जित हुईं थी, जो कि चुनाव आने से लटक गयीं थी ।